जला कर मारने, गोली से उड़ा देने या नरसंहार के लिए ‘असहिष्‍णुता’ (इनटोलरेंस) सही शब्‍द नहीं है – अरुंधति राय

हालांकि, मैं नहीं मानती कि कोई अवॉर्ड हमारे काम को आंकने का सही पैमाना है। मैं लौटाए गए अवॉर्ड्स की सूची में 1989 में प्राप्‍त नेशनल अवॉर्ड (बेस्‍ट स्‍क्रीनप्‍ले के लिए) को भी शामिल करती हूं। मैं यह साफ कर देना चाहती हूं कि मैं यह अवॉर्ड इसलिए नहीं लौटा रही क्‍योंकि मैं उस बात से आहत हूं जिसे ‘बढ़ती कट्टरता’ कहा जा रहा है … Continue reading जला कर मारने, गोली से उड़ा देने या नरसंहार के लिए ‘असहिष्‍णुता’ (इनटोलरेंस) सही शब्‍द नहीं है – अरुंधति राय

Of all dissenters who now live in fear and uncertainty, I am returning my Sahitya Akademi Award – Nayantara Sahgal

Protesting what she called a “vicious assault” on “India’s culture of diversity and debate” and questioning the silence of the Prime Minister on “this reign of terror”, including the lynching last week of a man in Dadri over rumours of beef consumption, writer Nayantara Sahgal said on Tuesday she was returning her Sahitya Akademi award. Ashok Vajpeyi, former chairperson of the Lalit Kala Akademi, also … Continue reading Of all dissenters who now live in fear and uncertainty, I am returning my Sahitya Akademi Award – Nayantara Sahgal