थोक में पकडऩा, फिर कुछ को छोड़ देना मुसलमानों के खिलाफ एनआईए की मनोवैज्ञानिक युद्ध रणनीति का हिस्सा

लखनऊ 2 जुलाई 2016। रिहाई मंच ने हैदराबाद से आतंकी संगठन आईएस से कथित तौर पर जुड़े बताकर पकड़े गए तेरह युवकों में से पांच को गिरफ्ततार दिखाते हुए बाकियों को छोड़ने को एनआईए की मुसलमानों के खिलाफ हाल के दिनों में तैयार मनोवैज्ञानिक हमले की रणनीति का प्रयोग बताया है। रिहाई मंच द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में मंच के अध्यक्ष एडवोकेट मोहम्मद शुऐब ने … Continue reading थोक में पकडऩा, फिर कुछ को छोड़ देना मुसलमानों के खिलाफ एनआईए की मनोवैज्ञानिक युद्ध रणनीति का हिस्सा

Why Hyderabad Investigations are doomed to fail – By Jamia Teachers’ Solidarity Association

RDX, In a grotesque replay of every investigation that follows a bomb blast, prejudice, misinformation and media blitz rules the direction of Dilsukh Nagar bombings investigation too. The same suspects and shadowy organizations are being paraded as executors of the Hyderabad bombings. But should we be surprised? A day after the Home Minister’s humiliating capitulation to the RSS-BJP, virtually giving them and their affiliates a … Continue reading Why Hyderabad Investigations are doomed to fail – By Jamia Teachers’ Solidarity Association