Important: Assam NRC- a humanitarian crisis looming large

“Citizenship is man’s basic right for it is nothing less than the right to have rights. Remove this priceless possession and there remains a stateless person, disgraced and degraded in the eyes of his countrymen”, once said Earl Warren, a prominent jurist. His words rightly sum up the fate of millions of residents in Assam whose names are excluded from the draft list of National … Continue reading Important: Assam NRC- a humanitarian crisis looming large

विदेश मंत्रालय ने भारत में अल्पसंख्यकों की धार्मिक स्वतंत्रता पर अमेरिकी रिपोर्ट को किया खारिज

वाशिंगटन/नई दिल्ली। अमेरिका द्वारा भारत में अल्पसंख्यकों की धार्मिक स्वतंत्रता पर जारी रिपोर्ट को भारतीय विदेश मंत्रालय ने खारिज कर दिया है। विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी करते हुए साफ कहा है कि इस मामले में किसी विदेशी इकाई को हस्तक्षेप और बोलने का अधिकार नहीं है। वहीं भाजपा ने भी इस रिपोर्ट को पूर्वग्रह से प्रेरित और झूठी करार दिया है। खबरों के … Continue reading विदेश मंत्रालय ने भारत में अल्पसंख्यकों की धार्मिक स्वतंत्रता पर अमेरिकी रिपोर्ट को किया खारिज

‘Rohingyas have captured the interest of the west as they are backward and liberal muslims.”

‘Rohingyas Issue Isn’t Political In India’ Ravi Hemadri, DAJI Director, talks about Rohingyas in India, lack of media coverage and resettlement issues. Hansa Malhotra,  Geetika Mantri INTERVIEWS Originally from Myanmar, the ‘boat people’ Rohingyas have been recognized by human rights organizations across the world as one of the most heavily persecuted minorities due to the systemic violence and discrimination they have faced in their own … Continue reading ‘Rohingyas have captured the interest of the west as they are backward and liberal muslims.”

थोक में पकडऩा, फिर कुछ को छोड़ देना मुसलमानों के खिलाफ एनआईए की मनोवैज्ञानिक युद्ध रणनीति का हिस्सा

लखनऊ 2 जुलाई 2016। रिहाई मंच ने हैदराबाद से आतंकी संगठन आईएस से कथित तौर पर जुड़े बताकर पकड़े गए तेरह युवकों में से पांच को गिरफ्ततार दिखाते हुए बाकियों को छोड़ने को एनआईए की मुसलमानों के खिलाफ हाल के दिनों में तैयार मनोवैज्ञानिक हमले की रणनीति का प्रयोग बताया है। रिहाई मंच द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में मंच के अध्यक्ष एडवोकेट मोहम्मद शुऐब ने … Continue reading थोक में पकडऩा, फिर कुछ को छोड़ देना मुसलमानों के खिलाफ एनआईए की मनोवैज्ञानिक युद्ध रणनीति का हिस्सा

“Paavam, kozhandhai, let her touch and play” – Benazir

When I was 8 or 9 years old, one of my neighbours took to me to the house of another neighbor during navratri when brahmin households keep golu (figurines arranged over a step-like apparatus). The hosts were traditional brahmins who lived in a grand house, the uncle – who would have been around 50 then, was tall, dignified with a booming voice and his wife … Continue reading “Paavam, kozhandhai, let her touch and play” – Benazir

क्या आप वाकई मुस्लिमों को जानते हैं?

((Translated by Mayank Saxena)) 12 अप्रैल, 2014 (12 अप्रैल, 2014 के इस लेख को लिखे गए अब एक साल से अधिक समय हो चला है, आम चुनाव हो गए हैं और देश में नई सरकार आ गई है। चारों ओर वैसा ही माहौल परिपक्व हो चुका है, जिसका ख़तरा भाप कर ये लेख लिखा गया था, ऐसे में जब पुणे में सिर्फ दाढ़ी और टोपी … Continue reading क्या आप वाकई मुस्लिमों को जानते हैं?