हमको कभी माफ़ मत करना, तबरेज़- Mayank Saxena

  दो दिन हुए, तबरेज़ की पिटाई का वीडियो न जाने कितने ही लोगों ने भेजा…देखने की हिम्मत जुटाना मुश्किल था…और फिर आज एक दोस्त से बात हुई और वहां से जवाब आया, “मुसलमान के लिए अब इस मुल्क़ में कोई जगह नहीं…तुम लोग जो चाहें कोशिश कर लो, अब इस मुल्क़ के ज़्यादातर हिंदू, हमारे ख़िलाफ़ हैं…हम बस चुपचाप पंचर बनाते रहें और ज़िंदगी … Continue reading हमको कभी माफ़ मत करना, तबरेज़- Mayank Saxena

This video is going Viral: Baar Baar Fenko

This is a small parody, dedicated to the biggest parody ever in India…Celebrating 1 Year of ‘demon’etisation – We are Happy to give this to you, so that you may sing this on streets, schools and everywhere you are on 8th of November, 2017. बार-बार फेंको, एक छोटी सी पैरोडी है..जो समर्पित है, देश में गाई गई; सबसे बड़ी पैरोडी – नोटबंदी के नाम…अब जब … Continue reading This video is going Viral: Baar Baar Fenko

हस्तमैथुन (Masturbation) – Mayank Saxena

  यौवन मेरा न संभले है हूं अधेड़ फिर भी उबले है मैं मत्त मदांध लेकर सड़ांध बन आज आम बौराया हूं हॉस्टल के द्वार खिड़की के पार हस्तमैथुन करने आया हूं हां, वही वही मस्टरबेशन करतें हैं जिसको सारे जन मैं बेच लाज आया हूं आज इसको दिखलाने तुमको भी ये राज़ बताने तुमको भी मेरा पौरुष हुआ निरंकुश अब गटर सा मैं उफ़नाया … Continue reading हस्तमैथुन (Masturbation) – Mayank Saxena

हम सब अभिशप्त हैं, क्योंकि हम देख और महसूस कर पाते हैं – Mayank Saxena

आप वो समाज हैं, जो बाबरी गिरने के बाद घरों की छतों पर खड़े हो कर थालियां पीट रहे थे..घंटे-घड़ियाल बजा रहे थे…रात को मशाल ले कर विजय जुलूस निकाल रहे थे…दीए जला रहे थे… आप वह समाज हैं, जो गुजरात के निर्मम जनसंहार में हज़ार लोगों के बेरहम क़त्ल को गोधरा को लेकर तर्कसंगत बताने में लगे थे…बिल्कीस के बलात्कार, उसकी तीन साल की … Continue reading हम सब अभिशप्त हैं, क्योंकि हम देख और महसूस कर पाते हैं – Mayank Saxena

बच्चा-बच्चा राम का, जन्मभूमि के काम का – Mayank Saxena

बच्चा-बच्चा राम का, जन्मभूमि के काम का ये नारा लगाने वालों के बच्चे कॉन्वेंट में पढ़ रहे हैं…न कि शिशु मंदिर में…जिनके बड़े हो गए, वे स्वयंसेवक या कारसेवक नहीं हैं…आईटी कम्पनियों में हैं…विदेश में हैं…हिंदी और संस्कृत नहीं, अंग्रेज़ी बोलते हैं…धोती नहीं, स्मार्ट केसुअल्स पहनते हैं…और माता-पिता के पैर तो सुबह उठ कर नहीं ही छूते हैं… तय मानिए, वह न राम के हैं, … Continue reading बच्चा-बच्चा राम का, जन्मभूमि के काम का – Mayank Saxena

आपको लगता है कि चुनाव में लोकतंत्र की जीत हुई है? सीएम की निंदा करने पर एफआईआर और गिरफ्तारियां हो रही हैं – Mayank Saxena

आपको लगता है कि चुनाव में लोकतंत्र की जीत हुई है? सीएम की निंदा करने पर एफआईआर और गिरफ्तारियां हो रही हैं…चुनाव में हमेशा लोकतंत्र ही नहीं जीतता है। जर्मनी में पहली बार हिटलर भी चुनाव जीत कर ही आया था। इमरजेंसी के पहले, इंदिरा गांधी भी चुनाव जीत कर ही आई थी। परवेज़ मुशर्रफ ने भी चुनाव जीते थे। ट्रम्प ने भी जीता है। … Continue reading आपको लगता है कि चुनाव में लोकतंत्र की जीत हुई है? सीएम की निंदा करने पर एफआईआर और गिरफ्तारियां हो रही हैं – Mayank Saxena