आपके मर्यादापुरुषोत्तम आपको मुबारक – Dilip Mandal

महान शूद्र विद्वान और तपस्वी शंबूक की हत्या करने वाला मेरे लिए मर्यादापुरुषोत्तम नहीं है। अगर वह आपका मर्यादापुरुषोत्तम है, तो यह आपकी आज़ादी है। मुझे अपना मर्यादापुरुषोत्तम चुनने की आज़ादी संविधान देता है। देखें अनुच्छेद 15 और 25. इसी आज़ादी के तहत शंबूक वध की निंदा करने वाली सैकड़ों किताबें छपी हैं, नाटक लिखे गए हैं, कविताएँ लिखी गई हैं, लिखी जा रही हैं। … Continue reading आपके मर्यादापुरुषोत्तम आपको मुबारक – Dilip Mandal