पाकिस्तान को धनराशि देना गाँधी की हत्या का कारण नहीं. इससे पहले भी हो चुके थे उनकी हत्या के पांच प्रयास – रुक्मिणी सेन

16 मार्च को हंसल मेहता, तुषार गाँधी और कुमार केतकर एक साथ तीस्ता सीतलवाड़ की किताब  “ संदेह से परे – गाँधी की हत्या के दस्तावेज: संकलन एवं प्राक्कथन ” के अनावरण के लिए एक मंच पर साथ साथ देखे गए। तीस्ता सीतलवाड़ ने अतिथियों और पत्रकारों को संक्षिप्त संबोधन में कहा : “गाँधी की हत्या कोई स्वतः स्फूर्त घटना नहीं थी बल्कि उससे पहले … Continue reading पाकिस्तान को धनराशि देना गाँधी की हत्या का कारण नहीं. इससे पहले भी हो चुके थे उनकी हत्या के पांच प्रयास – रुक्मिणी सेन

पाकिस्तान को धनराशि देना गाँधी की हत्या का कारण नहीं…इससे पहले भी हो चुके थे उनकी हत्या के पांच प्रयास – रुक्मिणी सेन

16 मार्च को हंसल मेहता, तुषार गाँधी और कुमार केतकर एक साथ तीस्ता सीतलवाड़ की किताब “संदेह से परे – गाँधी की हत्या के दस्तावेज: संकलन एवं प्राक्कथन” के अनावरण के लिए एक मंच पर साथ साथ देखे गए। तीस्ता सीतलवाड़ ने अतिथियों और पत्रकारों को संक्षिप्त संबोधन में कहा : “गाँधी की हत्या कोई स्वतःस्फूर्त घटना नहीं थी बल्कि उससे पहले भी उनकी हत्या … Continue reading पाकिस्तान को धनराशि देना गाँधी की हत्या का कारण नहीं…इससे पहले भी हो चुके थे उनकी हत्या के पांच प्रयास – रुक्मिणी सेन

Gandhi wasn’t murdered for the money given to Pakistan. There were 5 attempts before – Rukmini Sen

On the 16th of March, Monday Hansal Mehta, Tushar Gandhi and Kumar Ketkar came together in support of Teesta Setalvad’s book Beyond Doubt: A Dossier on Gandhi’s Assassination. Teesta Setalvad in her short address to the guests and the Press on this occassion said- “Gandhi’s assassination was not a spontaneous act. There were five murder attempts made before Gandhi was actually killed. Godse was involved … Continue reading Gandhi wasn’t murdered for the money given to Pakistan. There were 5 attempts before – Rukmini Sen