Government admits your Aadhaar data has been leaked

CHENNAI: If you have an Aadhaar Card and if your bank accounts and other sensitive information are linked to it, chances are that your data is no longer secure. For the first time, the Modi government has officially acknowledged that personal identity of individuals, including Aadhaar number and other sensitive information, has been leaked to the public domain. The government, in the recent past, had ignored … Continue reading Government admits your Aadhaar data has been leaked

नब्बे साल के मेरे चाचा जी के पुराने किस्से – हिमांशु कुमार

कल अपने चाचा जी के पास बैठा था, वो पुराने किस्से सुनाने लगे, चाचा जी ने मुझे बताया कि सन चालीस के लगभग की बात है, एक बार तेरे दादा जी मुज़फ्फर नगर में घर के सामने बैठे थे, तभी दुल्ला कसाई एक लंगड़ी गाय लेकर जा रहा था, हमारे घर की भैंस कुछ दिन पहले मर चुकी थी, घर में दूध की दिक्कत थी, … Continue reading नब्बे साल के मेरे चाचा जी के पुराने किस्से – हिमांशु कुमार

पचास दिन पचास रात – बोधिसत्व

  यह बड़ी पुरानी बात है कोसल का एक राजा था एक दिन राजा ने उद्बोधन किया … प्रिय प्रजाजनों प्रिय संत जनों राष्ट्र हित में बस पचास दिन और पचास रात जो देता हूँ वह दुख सहन करो वह राजा था इसलिए उद्बोधन कर सकता था दुख सुख सब कुछ दे सकता था भक्त प्रजा ने भजन किया बस पचास दिन और पचास रात … Continue reading पचास दिन पचास रात – बोधिसत्व

आर्यवर्त की सजग सरकार-बोधिसत्व

  तभी अचानक सावन के दिव्य महीने में सर्वथा नूतन सरकार ने … एक नया नवेला नियम बनाया घर में दफ्तर में बाजार में रात दिन दोपहर मे नदी नाले नहर में डूब कर या खा कर जहर जो जान गवांएगा ऐसा आत्म हत्यारा देश के लिए शहीद माना जाएगा ऐसे आत्म बलिदानियों की भव्य समाधि बनेगी नगर चौक पर मूर्ति बिठाई जाएगी जन कवियों … Continue reading आर्यवर्त की सजग सरकार-बोधिसत्व

ATMs without money are still the norm – Renuka Shahane

The 1st of December has gone by. Long queues outside banks and ATMs without money are still the norm. If Demonetization has shown the colossal failure of implementation of a perfectly good idea with perfectly good intentions, it has also shown the strength & resilience of our citizens. People working in banks are still working beyond their normal call of duty, working overtime, canceling holiday … Continue reading ATMs without money are still the norm – Renuka Shahane

Don’t be ridiculous Modiji: Sensational speech on Demonetization? – Mohan Guruswamy

The Prime Minister is making a clown of himself by making unintelligent and sensationally emotional speech justifying the foolish implementation of the so-called demonetization. We are now allowed to exchange our higher denomination notes till December 30. That is why it is not demonetization because the notes can still be exchanged for a finite period. The misuse of terms is now becoming an habit with … Continue reading Don’t be ridiculous Modiji: Sensational speech on Demonetization? – Mohan Guruswamy

पांच सौ और हजार के नोटो का इस्तेमाल लगभग गैर क़ानूनी हो जाएगा:किसान, आदिवासी मजदूर,दलित, क्या ये भी उसी देश की परिभाषा में शामिल है जिस देश को इस कदम का लाभ मिलेगा?

सवाल कई हैं, संदेह कई है। चूंकि हमारे लिए ये एक बिलकुल नई घटना है तो सिर्फ कयास ही लगाए जा सकते है। असल परिणाम क्या होंगे ये तो अभी भविष्य की गर्भ में है। ये भी हो सकता है कि ये कदम, सच में सरकार ने, ईमानदारी से देश हित में उठाया हो और देश को निकट भविष्य में इसका लाभ मिले। पर देश में कौन-कौन शामिल है ये एक अलग मसला है। किसान आदिवासी मजदूर दलित, क्या ये भी उसी देश की परिभाषा में शामिल है जिस देश को इस कदम का लाभ मिलेगा? Continue reading पांच सौ और हजार के नोटो का इस्तेमाल लगभग गैर क़ानूनी हो जाएगा:किसान, आदिवासी मजदूर,दलित, क्या ये भी उसी देश की परिभाषा में शामिल है जिस देश को इस कदम का लाभ मिलेगा?