Must Read: Raise better boys at home, and the world will know fewer disrespectful men – Dipesh Tank

Courtesy: Humans of Bombay   “I grew up in a slum in Bombay. Since I was young, my father didn’t keep very well and I grew up watching my mother work around the clock to make ends meet. She started her own catering business, and would sometimes work over 12 hours in a day — the people in my slum looked down upon her for … Continue reading Must Read: Raise better boys at home, and the world will know fewer disrespectful men – Dipesh Tank

बेटों को समझाएं ताकि शोषण के अपराध में लिप्त पुरुषों की संख्या कम हो सके – Dipesh Pant

Humans of Bombay के पेज पर Dipesh Tank का ये अनुभव मैंने पढ़ा और चूँकि मैं चाहती हूं कि ऐसे अनुभव ज़्यादा से ज़्यादा लोगों तक पहुंचे तो इस पोस्ट का हिंदी अनुवाद आप सबके साथ साझा कर रही हूं| किसी समस्या के समाधान का पहला चरण स्वीकार्यता होती है जिसमें अपनी ज़िम्मेदारी के एहसास का अहम रोल है| दीपेश ये कर सके, बाकी ज़्यादातर … Continue reading बेटों को समझाएं ताकि शोषण के अपराध में लिप्त पुरुषों की संख्या कम हो सके – Dipesh Pant