‘संघ के राष्ट्रवाद का मतलब सवर्ण जातियों की श्रेष्ठता’ – Himanshu Kumar

आधुनिक राष्ट्रवाद के उदय का इतिहास नए राष्ट्र-राज्यों के निर्माण के बाद से शुरू होता है, यूरोप में लम्बे समय तक युद्ध चले और वहाँ राष्ट्रों का निर्माण भाषा के आधार पर हुआ, जर्मनी, फ्रांस, स्पेन, इटली आदि देश भाषा के आधार पर बने, चूंकि यह देश लम्बे समय तक युद्धों में लगे रहे थे इसलिए वहाँ राष्ट्रवाद दूसरे राष्ट्रों के प्रति घृणा, सेना की … Continue reading ‘संघ के राष्ट्रवाद का मतलब सवर्ण जातियों की श्रेष्ठता’ – Himanshu Kumar