अहिंसक विरोध प्रदर्शन मनुष्य का मौलिक अधिकार है – अमीर रिज़वी

अहिंसक विरोध प्रदर्शन मनुष्य का मौलिक अधिकार है विरोध का माध्यम और विरोध का रूप विरोध करने वाले स्वयं चुनते आए हैं किसी भी विरोध प्रदर्शन का तात्पर्य होता है कि प्रदर्शनकारियों की आवाज़ उन तक पहुंचे जो कानून/ व्यवस्था/ सरकार इत्यादि के अधिकारी हैं. जब जब बड़ी ताक़तों का और दबंगों का विरोध हुआ है वे विरोध के रूप को अधर्म, अनैतिक, संस्कार के … Continue reading अहिंसक विरोध प्रदर्शन मनुष्य का मौलिक अधिकार है – अमीर रिज़वी

Decoding Social Media Activism: An Interview with Amir Rizvi Abbas Syed

            Social media as a (more subliminal) tool for revolution and uprisings has always fascinated me more than its more celebrated purpose of shallower ‘connectivity.’ Not to depreciate the value of the latter but if it’s an effective enough means to say, promote insurgent agendas or topple entire governments, then it’s relevant enough to warrant deeper probing within an Indian … Continue reading Decoding Social Media Activism: An Interview with Amir Rizvi Abbas Syed