देश को तेजबहादुर यादव का सम्मान करना चाहिए। वह जली रोटी का हक़दार नहीं है। वह हमारा रक्षक है। – Dilip Mandal

देश अगर इन जवानों का एहसानमंद है, जो कि होना चाहिए, तो उनकी तनख़्वाह बढ़ाए। उचित पेंशन दे। उनकी सुविधाओं का ख़्याल रखे।

उनकी सेवादार यानी अर्दली की ड्यूटी बंद हो। जिनके हाथ में मशीनगन होती है, वे लोग अफ़सरों के घरों में कुत्ते टहलाते शोभा नहीं देते।

देश को तेजबहादुर यादव का सम्मान करना चाहिए। वह जली रोटी का हक़दार नहीं है। वह हमारा रक्षक है। Continue reading देश को तेजबहादुर यादव का सम्मान करना चाहिए। वह जली रोटी का हक़दार नहीं है। वह हमारा रक्षक है। – Dilip Mandal

दर्द का रिश्ता – Dilip Mandal

दर्द का रिश्ता। आज पहली बार एक मंच पर आईं रोहित वेमुला की माँ राधिका वेमुला और डेल्टा मेघवाल के पिता महेंद्र मेघवाल। दोनों की आँखों में आज मैंने तकलीफ़ का समुंदर देखा। दोनों ने कहा कि एक ऐसा भारत चाहते हैं, जिसमें किसी छात्र को रोहित या डेल्टा न बनना पड़ा। मौक़ा था आज हरियाणा में DASFI के पाँचवे राष्ट्रीय अधिवेशन का। इन दोनों … Continue reading दर्द का रिश्ता – Dilip Mandal

आपके मर्यादापुरुषोत्तम आपको मुबारक – Dilip Mandal

महान शूद्र विद्वान और तपस्वी शंबूक की हत्या करने वाला मेरे लिए मर्यादापुरुषोत्तम नहीं है। अगर वह आपका मर्यादापुरुषोत्तम है, तो यह आपकी आज़ादी है। मुझे अपना मर्यादापुरुषोत्तम चुनने की आज़ादी संविधान देता है। देखें अनुच्छेद 15 और 25. इसी आज़ादी के तहत शंबूक वध की निंदा करने वाली सैकड़ों किताबें छपी हैं, नाटक लिखे गए हैं, कविताएँ लिखी गई हैं, लिखी जा रही हैं। … Continue reading आपके मर्यादापुरुषोत्तम आपको मुबारक – Dilip Mandal

समस्या बहुजनों की है. SC और OBC को मिलकर सोचना होगा – Dilip Mandal

  ओबीसी पर आरोप है कि वह ब्राह्मणवाद की पालकी ढोता है। हो सकता है कि आप ठीक बोल रहे हों। लेकिन, आजादी के बाद से 1990 तक और उसके बाद भी, दलित जब मोटे तौर पर कांग्रेस को वोट देते थे और यूपी के बाहर कई राज्यों में आज भी उसे ही वोट देते हैं, तो वे किसकी पालकी ढोते हैं? दलितों ने बाबा … Continue reading समस्या बहुजनों की है. SC और OBC को मिलकर सोचना होगा – Dilip Mandal

सवर्णों का समाज सुधर नहीं रहा है- Dilip Mandal

सवर्णों को जाति के नाम पर नफरत बंद करने का सबक देने के लिए ओबामा या पुतिन नहीं आएंगे. समाज सुधार के लिए यहीं पर किसी को यह काम करना होगा. सवर्ण बुध्दिजीवी, चिंतक, एक्टिविस्ट यह करने को तैयार नहीं हैं. गांधी की तरह वे भी “हरिजनों” को ही जगाना चाहते हैं. हरिजन जाग – जाग कर परेशान है. इतना सामाजिक जागरण हुआ है कि … Continue reading सवर्णों का समाज सुधर नहीं रहा है- Dilip Mandal

राजधर्म निभाइए नरेंद्र मोदी जी – Dilip Mandal

इसी महीने RSS के एक नेता पर पंजाब में हमला होता है और केंद्र सरकार 15 कंपनी अर्धसैनिक बल फ़ौरन पंजाब रवाना कर देती है। आज ऊना की दलित अस्मिता यात्रा से लौट रहे लोगों पर असामाजिक तत्व जगह जगह हमला कर रहे हैं। गुंडों को पुलिस का कोई ख़ौफ़ नहीं है। राजधर्म निभाइए नरेंद्र मोदी जी। आप चाहे लाख कहें, कोई आपको गोली नहीं … Continue reading राजधर्म निभाइए नरेंद्र मोदी जी – Dilip Mandal

भारत में आज़ाद ख़्वाहिशों की एक ख़ूबसूरत सुबह – Dilip Mandal

भारत में आज़ाद ख़्वाहिशों की एक ख़ूबसूरत सुबह। ऊना, गुजरात से आई कुछ प्यारी तस्वीरें। एक से बढ़कर एक। स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएँ।   भारतीय आवाम की यह चट्टानी एकता क़ायम रही तो यूपी चुनाव यानी मार्च 2017 के बाद संघी किसी पर हमला करने के क़ाबिल नहीं रहेंगे। बीजेपी में राजनाथ बनाम मोदी बनाम गडकरी बनाम शाह चलेगा अगले लोकसभा चुनाव तक। सरकार 2019 … Continue reading भारत में आज़ाद ख़्वाहिशों की एक ख़ूबसूरत सुबह – Dilip Mandal