After Patanjali, now Videocon blames PM Modi’s demonetisation announcement for Rs 39,000 crore debt

The consumer appliances maker has blamed Prime Minister Modi, the Supreme Court and the Brazilian government for the current misfortune plaguing the company. A report by Bloomberg said that PM Modi’s demonetisation decision in November 2016 chocked supplies for making cathode ray tube (CRT) televisions and forced Videocon to shut the business. In its filing before the National Company Law Tribunal, which has initiated the … Continue reading After Patanjali, now Videocon blames PM Modi’s demonetisation announcement for Rs 39,000 crore debt

This video is going Viral: Baar Baar Fenko

This is a small parody, dedicated to the biggest parody ever in India…Celebrating 1 Year of ‘demon’etisation – We are Happy to give this to you, so that you may sing this on streets, schools and everywhere you are on 8th of November, 2017. बार-बार फेंको, एक छोटी सी पैरोडी है..जो समर्पित है, देश में गाई गई; सबसे बड़ी पैरोडी – नोटबंदी के नाम…अब जब … Continue reading This video is going Viral: Baar Baar Fenko

सुन Circuit! बोले तो अब वोटबंदी मांगता है- Rakesh Kayasth

  कमाल का देश है अपना! मनोरंजन के लिए बनाई गई फिल्में शिक्षा देती हैं और जनता को शिक्षित करने के लिए गये महान राजनीतिक फैसले आखिर में मनोरंजक साबित होते हैं। नोटबंदी में सरकार को इतने नोट मिले थे कि गिनती नहीं हो पा रही थी। डर था कि गिनने की ड्यूटी से उकता गये आरबीआई के गर्वनर साहब नौकरी ना बदल लें, जैसे … Continue reading सुन Circuit! बोले तो अब वोटबंदी मांगता है- Rakesh Kayasth

…फकीरा चल चला चल – Rakesh Kayasth

प्रश्न गहरा है— मांगना क्या है? सवाल अगर दर्शनशास्त्र से जुड़ा हो तो जवाब हो सकता है- मांगना धर्म है। समाजशास्त्र से जुड़ा है तो जवाब होगा— मांगना आदत है। सवाल इतिहास का है तो फिर मांगना हमारी परंपरा है और अगर सवाल व्याकरण का है तो फिर मांगना एक क्रिया है। अब अगला प्रश्न- मांगना अच्छा है या बुरा? यह निर्भर इस बात पर … Continue reading …फकीरा चल चला चल – Rakesh Kayasth

देशहित कोई अदृश्य देवता है – Charu Mishra

  देशहित कोई अदृश्य देवता है जिसके लिए जन जन को अपना खून पसीना बहा देना चाहिए। अपनी भूख प्यास और बीमारी भूल जानी चाहिए। आदिवासियों और किसानों को इसकी पूजा में अपनी ज़मीने अर्पित कर देनी चाहिए और सिपाहियों को अपना सुख अपनी जान छात्रो को शिक्षा का बजट और स्कॉलरशिप न्योछावर कर देनी चाहिए तो बच्चों को स्वास्थ्य सुविधाएं कर्मचारियों को बुढ़ापे का … Continue reading देशहित कोई अदृश्य देवता है – Charu Mishra