कल 11 बजे होगी लखनऊ जेल में मुलाकात,रिहाई मंच ने की आबिद की सुरक्षा की मांग

  लखनऊ 16 जुलाई 2016। पाकिस्तानी आतंकी आबिद की तस्वीर के अपने बेटे से मिलने का संदेह व्यक्त कर चुके मेरठ के हिंदू परिवार ने आज रिहाई मंच के नेतृत्व में अपने बेटे से मिलाने की फरियाद डीएम से की। डीएम का प्रभार देख रहे सीडीओ ने कल 11 बजे उन्हें जेल जाकर मुलाकात करने का वक्त देते हुए जिला जेल प्रशासन से मुलाकात एसटीएफ, … Continue reading कल 11 बजे होगी लखनऊ जेल में मुलाकात,रिहाई मंच ने की आबिद की सुरक्षा की मांग

किसी झूठ को सौ बार कहने से वह सच नहीं हो जाता ! -किशोर

लेखकों, फिल्मकारों, और वैज्ञानिकों द्वारा पुरुस्कार लौटाने का गैरजरूरी विवाद अभी खत्म भी नहीं हुआ था कि भक्तों और मीडिया ने एक और विवाद खड़ा कर दिया. सबसे पहले तो मैं आमिर खान को मुबारकबाद देना चाहूँगा कि उन्होंने आज के हालात पर सोचा और उसे व्यक्त भी किया. वह चाहते तो चुप भी रह सकते थे पर उन्होंने बोला ! आज जब कुछ बोलना … Continue reading किसी झूठ को सौ बार कहने से वह सच नहीं हो जाता ! -किशोर

This one’s for dad – Parvez Imam

When my father passed away last week, my younger sister was with him. The hospital formalities required filling up various forms. A column for the death certificate requires the religion of the deceased. My sister did not hesitate even for a moment to scribble ‘Humanity’. The hospital staff was confused but she insisted and they had to accept it. My other siblings and I loved … Continue reading This one’s for dad – Parvez Imam

BJP leader was wrong- Shah Rukh did speak up during 26/11

NEW DELHI:  Where was Shahrukh Khan when 26/11 happened asked Senior BJP leader Kailash Vijayvargiya on Tweeter on the 4th of November 2015. Mr Vijatvargiya has drawn strong criticism from his own party and others for his attack on Shah Rukh Khan over the film star’s comments on religious intolerance. “Shah Rukh Khan lives in India, but his heart is in Pakistan. His films make crores … Continue reading BJP leader was wrong- Shah Rukh did speak up during 26/11

हम साम्प्रदायिक मूर्ख हैं, और अपने बच्चों को वैसा ही बनाते हैं (सच्ची घटना)

हालांकि मेरे वो मित्र और बड़े भाई नहीं चाहते थे, फिर भी आज चूंकि ये घटना बेहद प्रासंगिक है, इसलिए साझा करना चाहूंगा….शायद पिछले साल 14 अगस्त का वाकया है… मेरी वो 12 साल की भतीजी, अपनी स्कूल बस में थी। रोज़ की ही तरह वो स्कूल गई थी, 14 अगस्त आज़ादी का दिन तो होता है, लेकिन हिंदुस्तान और पाकिस्तान ने आधी रात की … Continue reading हम साम्प्रदायिक मूर्ख हैं, और अपने बच्चों को वैसा ही बनाते हैं (सच्ची घटना)