सच कहना हो ज़रूरी तो जेल में रहिये- पंकज परवेज़

ऐसे हर शख्स को सूली पे चढ़ाया जाये जो कहे सो रहा इंसान जगाया जाये सच कहना हो ज़रूरी तो जेल में रहिये हुक्म मुंसिफ का है, दस्तूर बनाया जाये क्या हिमाक़त है, हमें आईना दिखाता है जल्द महफ़िल में चिराग़ों को बुझाया जाये सरतराशी का बहुत ख़ूब हुनर है उसका रस्म कहती है कि सरताज बनाया जाये ना ज़मीं गोल ना सूरज के लगाती … Continue reading सच कहना हो ज़रूरी तो जेल में रहिये- पंकज परवेज़