Gujarat Files-2: ”उसे जीने का कोई हक़ नहीं है, मार डालो”!

राणा अयूब      राजन प्रियदर्शी गुजरात एटीएस के महानिदेशक 2007 में थे जब फर्जी मुठभेड़ में हुई हत्‍याओं की जांच गुजरात सीआइडी ने शुरू की थी। इतना ही नहीं, 2002 के दंगे के दौरान वे राजकोट के आइजी भी थे। उन्‍होंने हमें चौंकाने वाली बात बताई कि उनके गांव का एक नाई उनके बाल काटने से मना कर देता था इसलिए उन्‍हें दलित निवास … Continue reading Gujarat Files-2: ”उसे जीने का कोई हक़ नहीं है, मार डालो”!