Sticky post

थोड़ी सिफारिश कर दो डियरअक्षय! – Darain Shahidi

डियर अक्षय , कैसे हो ?वो क्या है कि नॉर्थ ईस्ट में एक समुदाय के लोगों की नागरिकता पर संदेह पैदा कर दिया गया है।नंबर टू कहते हैं कि हिन्दू बुद्ध और सिख के अलावा सबको देश से बाहर कर देंगे। थोड़ी सिफारिश कर दो भाई। थोड़ा पोलिटिकल होगा लेकिन ये “positive news” बन जाएगी। बाकी तुम्हारी तो मौज ही मौज है कनाडा में हिंदु … Continue reading थोड़ी सिफारिश कर दो डियरअक्षय! – Darain Shahidi

Breaking The Cycle of Chronic Dissatisfaction

Do you find yourself constantly chasing one goal after the other? Is it difficult for you to savor happy moments and rest in them? Do you immediately worry about the next problem once the previous one is solved? Are you constantly worried about something or the other? If you answered yes to most of these questions, chances are, you are chronically dissatisfied. Something gnaws at … Continue reading Breaking The Cycle of Chronic Dissatisfaction

Journalist bodies condemn moves to muzzle the media

Indian Press Club of India ,  Indian Women’s Press Corps  and Press Association have issued a strongly worded statement against central Government’s moves to muzzle the media . The statement says- ” We, the undersigned journalist organisations express deep concern at the statements made by the Hon’ble Attorney General of India insinuating that reports on the Rafale deal published in The Hindu newspaper were based … Continue reading Journalist bodies condemn moves to muzzle the media

देश भक्त रहें शव भक्त नहीं!

यह देश के लिए कठिन समय है। ऐसे में एक सुझाव है यह। कृपया ध्यान दें। देश में शव भक्त बहुत बढ़ गए हैं। ऐसे भक्तों से सावधान रहें। सजग रह कर शव भक्त और देश भक्त का अंतर बनाए रखें। घृणा की आंधी में अंधी भक्ति कभी भी शव भक्ति में बदल सकती है। सोचते रहें। शव भक्त के कुछ लक्षण यह है कि … Continue reading देश भक्त रहें शव भक्त नहीं!

Imran Khan’s conduct is predictable

Written by- Jaideep Verma Forget about the likes of Arnab Goswami who howl – “If you’re impressed by Imran Khan, get out of my country!” This is about pretty much all of the media, including, to my dismay, NDTV and particularly Mirror Now, who have been succumbing to old cliches about Imran Khan and even Pakistan without updating their perception with below-the-nose evidence. Don’t know … Continue reading Imran Khan’s conduct is predictable

नेहरू हर महीने नेताजी सुभाष की बेटी को आर्थिक मदद भेजते रहे, पर विज्ञापन नहीं किया!

प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने ‘डिस्कवरी ऑफ़ इंडिया’ जैसी किताब लिखकर इतिहास को भले ही समृद्ध किया हो, लेकिन लोगों में इतिहास के प्रति दिलचस्पी तो मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही जगाई है। इसके लिए देश की नौजवान पीढ़ी को ख़ासतौर पर उनका आभारी होना चाहिए। वे अपने भाषणों में अगर यक़ीन से परे दावों की मुसलसल धार न छोड़ते तो लोग इतिहास के … Continue reading नेहरू हर महीने नेताजी सुभाष की बेटी को आर्थिक मदद भेजते रहे, पर विज्ञापन नहीं किया!