प्रधानमंत्री जी,अनशन पर बैठे पीएचडी के छात्र दिलीप यादव की ओर ले जाना चाहूँगा- Tejashwi Yadav

आदरणीय प्रधानमंत्री जी, सादर प्रणाम, आपका ध्यान जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में अनशन पर बैठे पीएचडी के छात्र दिलीप यादव की ओर ले जाना चाहूँगा जो वाइवा के अंकों को 100 से घटाये जाने की माँग पर अनशन पर बैठे हैं। क्योंकि वाइवा में वंचित वर्गों के छात्रों से विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा पक्षपात किया जाता है।…

पांच सौ और हजार के नोटो का इस्तेमाल लगभग गैर क़ानूनी हो जाएगा:किसान, आदिवासी मजदूर,दलित, क्या ये भी उसी देश की परिभाषा में शामिल है जिस देश को इस कदम का लाभ मिलेगा?

सवाल कई हैं, संदेह कई है। चूंकि हमारे लिए ये एक बिलकुल नई घटना है तो सिर्फ कयास ही लगाए जा सकते है। असल परिणाम क्या होंगे ये तो अभी भविष्य की गर्भ में है। ये भी हो सकता है कि ये कदम, सच में सरकार ने, ईमानदारी से देश हित में उठाया हो और देश को निकट भविष्य में इसका लाभ मिले। पर देश में कौन-कौन शामिल है ये एक अलग मसला है। किसान आदिवासी मजदूर दलित, क्या ये भी उसी देश की परिभाषा में शामिल है जिस देश को इस कदम का लाभ मिलेगा?

चैनलों को ‘सिंगल आउट’ करके मीडिया को यह संकेत दिया गया है कि उन्हें ‘समय के साथ’ कैसे चलना चाहिए! – QW Naqwi

असम के भी एक चैनल पर एक दिन की रोक लगायी गयी है. यात्रा पर हूँ, इसलिए देर से लिख रहा हूँ. हालाँकि देखा कि इस मुद्दे पर सोशल मीडिया में ज़्यादा कुछ नहीं कहा गया. लेकिन मामला गम्भीर है और NDTV के मामले की ही अगली कड़ी है. अब यह साफ़ हो गया है…