कम्पनियों की दलाली के लिये राष्ट्रवाद का नाटक हम नहीं चलने देंगे-Himanshu Kumar

नजीब को पीटने और गायब करने के आरोपी एबीवीपी के लड़कों की पैरवी करने के लिये वकीलों की फर्म लूथरा एण्ड लूथरा ला कंपनी को लगाया गया है,

इस कंपनी के वकील भारत के सबसे मंहगे वकील होते हैं,

अरुण जेटली साहब व्यक्तिगत रूप से नजीब केस के आरोपियों को बचाने की कार्यवाही की नियमित देखरेख कर रहे हैं,

रामजस कालेज में प्रोफेसरों और लड़कियों को पीटने वाले एबीवीपी के गुण्डों को बचाने के लिये भी भाजपा द्वारा सब से मंहगे वकीलों को लगाया जायेगा,

ये एबीवीपी के गुण्डे तो सामान्य आर्थिक स्थिति वाले परिवारों से होते हैं,

इनके लिये मंहगे वकील भाजपा द्वारा खड़े किये जाते हैं,

पैसा बड़े उद्योगपति देते हैं,

क्योंकि लोकतन्त्र, मानवाधिकार और बराबरी की मांग करने वालों को देशद्रोही कह कर पीटने से खुद को बड़ा वाला देशभक्त घोषित करके सत्ता पायी जा सकती है,

उस सत्ता के द्वारा खदानों, जंगलों, बैंको का मालिक बन कर अरबों रुपये बनाये जा सकते हैं,

 

राष्ट्रवाद का पूरा खेल पूंजीपतियों के मुनाफे के लिये उनके पैसों से चलाया जाता है,

इनके राष्ट्रवाद का संबध पूंजीपतियों के मुनाफे से है,

इस राष्ट्रवाद का संबध भारत राष्ट्र से नहीं है,

लेकिन राष्ट्र हित सत्ता से बड़ा होता है ।

राष्ट्र को नुकसान पहुंचाने वाली सत्ता को उखाड़ फेंकना ही राष्ट्र की सबसे बड़ी भक्ति है
-चाणक्य

इसलिए जो भारत माता का अपमान करेगा उस सत्ता का विरोध किया जाएगा ।

और भारत माता कौन है

kick

भारत माता भारत की महिलाएं हैं

भारत माता वो महिला है जो दूसरों की टट्टी उठा रही है

potty

भारत माता वो महिला है जो ईंट भट्टे पर काम कर रही है

labourer

और मजदूरी मांगने पर जिसके साथ भट्टा मालिक द्वारा बलात्कार किया जाता है

भारत माता वो महिला है जिसे पुलिस वाला सत्ता की मदद से पीट रहा है

pic

भारत माता वो महिला सोनी सोरी है जिसके मूंह पर सत्ता के गुंडे एसिड मल रहे हैं,

soni

भारत माता वो महिलाएं हैं जो अपनी बेटियों के साथ सैनिकों द्वारा बलात्कार करने के बाद नग्न होकर खुद के साथ बलात्कार करने की चुनौती देने को मजबूर हैं,

indian

भारत माता खेतों मे काम करने वाली महिलाएं हैं जो दिन भर मेहनत करने के बाद भी एक समय खाना खा पाती हैं,

तुम्हारा कैलेंडर छाप धर्म ।

और भारत माता के फोटो वाला कैलेंडर छाप राष्ट्रवाद नहीं चलेगा,

सब कुछ असली चाहिए,

राष्ट्र्वादी हो तो राष्ट्र की महिलाओं के साथ होने वाले ज़ुल्मों के खिलाफ आवाज़ उठानी पड़ेगी,

एक तरफ राष्ट्र की महिलाओं की योनी में पत्थर भरने वाले सिपाहियों का समर्थन और दूसरी तरफ भारतमाता की जय का नारा एक साथ नहीं चलेगा,

फर्जी राष्ट्रवाद नहीं चलेगा,

हमारे पुरखों ने तो भारत की आज़ादी की लड़ाई लड़ी थी,

इसलिए हमें भारत माता की जय के नारे लगा कर अपनी राष्ट्रभक्ति दिखाने की ज़रूरत नहीं है,

लेकिन तुम्हारे पूर्वज उस वख्त अंग्रेजों से माफियां मांग रहे थे,

इसलिए तुम अपना एतिहासिक अपराध छिपाने के लिए भारत माता की जय के फर्जी नारे लगाते हो ताकि सब तुम्हें राष्ट्रभक्त मान लें,

हम ये होने नहीं देंगे,

फर्जी राष्ट्रवाद नहीं चलेगा,

कम्पनियों की दलाली के लिये राष्ट्रवाद का नाटक हम नहीं चलने देंगे,

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s